Wednesday, May 18, 2016

UGC-NET&SET-MODEL PAPER-2

UGC-NET&SET-MODEL PAPER-2


1. "रमणीयार्थ प्रतिपादक शब्द काव्याम्" किस आचर्य का कथन है
(क) मम्मट 
(ख) विश्वनाथ 
(ग) पंडितराज जगन्नाथ 
(घ) भामह

2. प्रसाद गुण का सम्बन्ध किस रीति से है
(क) वैदर्भी 
(ख) गौडीं 
(ग) पांचाली 
(घ) इनमें से कोई नहीं

3. निम्नलिखित में से किसे व्यभिचारी भाव कहा जाता है
(क) स्थायी भाव 
(ख) विभाव 
(ग) संचारी भाव 
(घ) अनुभाव

4. काव्याचार्यों का सही विरीयता क्रम बताइए—
(क) भट्ट लोल्लट, शंकुक, भट्टनायक, अभिनव गुप्त
(ख) शंकुक, भट्ट लोल्लट, अभिनव गुप्त, भट्टनायक
(ग) अभिनव गुप्त, भट्टनायक, शंकुक, भट्ट लोल्लट
(घ) भट्टनायक, भट्ट लोल्लट, अभिनव गुप्त, भट्टनायक

5. रस को ब्रह्मानन्द सहोदर मानने वाले हैं ---
(क) भरतमुनि 
(ख) भामह 
(ग) अभिनव गुप्त 
(घ) दण्डी

6. उदात्तवाद का सम्बन्ध किससे है –
(क) लोंजाइनस 
(ख) क्रोचे 
(ग) टी. एस. इलियट 
(घ) ज्याँ पाल सात्र

7. काव्यादर्श के रचनाकार हैं –
(क) भामह 
 (ख) विश्वनाथ 
(ग) आनन्दवर्धन 
(घ) दण्डी

8. जहाँ कारण होते हुए भी कार्य सम्पन्न न हो, वहाँ कौनसा अलंकार होता है –
(क) दृष्टान्त 
(ख) विशेषोक्ति 
(ग) असंगति 
(घ) विभावना

9. कुन्तक ने रीति के कौनसे तीन भेद माने हैं
(क) गौड़ी, वैदर्भी, पांचाली 
(ख) गोड़ी, पांचाली, लाटी
(ग) गौड़ी, वैदर्भी, लाटी 
(घ) सुकुमार, विचित्र, मध्यम

10. निम्नलिखित में किसकी प्रतिभा को भावयित्री प्रतिभा कहा गया है—
(क) आचार्य 
(ख) कवि 
(ग) अभिनेता 
(घ) सह्रदय